उत्तर प्रदेशभारतमुजफ्फरनगर

मुजफ्फरनगर हादसे में बड़ा अपडेट: देर रात तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन में मलबे से निकाले गए 19 मजदूर, 2 की मौत

Jansath Ancident
1.7kviews

हादसे में 2 मजदूरों की मौत, 17 मजदूर घायल, देर रात तक चला रेस्क्यू ऑपरेशन, कई घंटों के बाद मलबे से निकाले गए दबे मजदूर, एडीजी मेरठ, सहारनपुर डीआईजी, मुज़फ़्फ़रनगर डीएम और एसएसपी मौके पर रहे मौजूद

यूपी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में रविवार की शाम एक बड़ा हादसा हो गया। जैक की मदद से उठाने के दौरान दो मंजिला मकान अचानक भरभराकर गिर गया, जिसके नीचे करीब 19 मजदूर दब गए। हादसे की वजह से मौके पर अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में डीएम और एसएसपी समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे और बचाव एवं राहत कार्य युद्ध स्तर पर चलाकर मलबे में दबे मजदूरों को बाहर निकाला शुरू किया। देर रात तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद सभी मजदूरों को निकाल लिया गया, जिनमें से 2 मजदूरों की उपचार दौरान मौत हो गई। घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

Jansath Ancidentदरअसल, मेरठ जिले के मवाना निवासी मुर्सलीन का मुजफ्फरनगर जिले के जानसठ कस्बे में पानीपत-खटीमा मुख्य मार्ग पर दो मंजिला मकान है। गहराई में होने की वजह से मुर्सलीन ने मकान को उठाने का ठेका रामपुर जिले के रायपुर मजरा थाना सेफली के रहने वाले ठेकेदार छुट्टन को दिया था। पिछले पांच दिनों से मकान को उठाने का कार्य चल रहा था कि रविवार को शाम होते-होते हुए मकान एक तरफ को झुकने लगा।

सीधा करने की कोशिश में हुआ हादसा

मकान को सीधा करने की कोशिश में अचानक हादसा हो गया और पूरा मकान देखते ही देखते धराशायी हो गया। मिली जानकारी के मुताबिक, हादसे में 19 मजदूर मकान के मलबे के नीचे दब गए। सूचना मिलते ही डीएम अरविंद मलप्पा बंगारी और एसएसपी अभिषेक सिंह तत्काल मौके पर पहुंचे एवं अपनी निगरानी में तत्काल ही राहत एवं बचाव कार्य शुरू कराया।

Jansath Ancidentबुलाई गई एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम

ग़ाज़ियाबाद से 2 टीम एनडीआरएफ, एक टीम एसडीआरएफ की बुलाई गई एवं स्थानीय पुलिस बल के साथ युद्ध स्तर पर बचाव एवं राहत कार्य चलाया गया। जिसके परिणाम स्वरूप जल्द ही 14 मजदूरों को बाहर निकाल लिया गया, जिनमें से मोहित पुत्र नामालूम, निवासी नियामतपुर बिलारी, जिला मुरादाबाद को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि बाकियों को रेफर कर दिया गया। हादसे को लेकर प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट कर दिया, जिसके तुरंत बाद ही कई एंबुलेंस घटना स्थल पर पहुंच गई। घायलों को निकालते ही प्राथमिक उपचार के साथ-साथ उन्हें अस्पताल भेजा जाता रहा।

Jansath Ancidentहादसे के बाद फरार हुआ ठेकेदार

जैसे ही हादसा हुआ, वैसे ही ठेकेदार अपने मजदूरों को मलबे के नीचे दबे हुए छोड़कर मौके से फरार हो गया।

देर रात तक चला रेस्क्यू ऑपरेशन

देर शाम तक 14 मजदूरों को निकाल लिया गया, लेकिन अभी भी 5 मजदूर मलबे में दबे हुए थे, जिन्हें निकालने के लिए टीम द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन तेज़ किया गया। जेसीबी और कटर की मदद से मलबे को तोड़कर मजदूरों की खोजबीन की जाती रही। देर रात तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन में सभी 19 मजदूरों को बाहर निकाल लिया गया। पुलिस के मुताबिक, उपचार के दौरान 2 मजदूरों ने दम तोड़ दिया, बाकी 17 घायल मजदूरों को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है, जिनका उपचार किया जा रहा है।

13 घायलों के नामों की हुई पुष्टि

  1. नवनीत पुत्र तारा सिंह, निवासीः खाबली अव्वल, तहसील बिलारी, जिला मुरादाबाद
  2. राहुल पुत्र धीर सिंह, निवासीः खाबली अव्वल, तहसील बिलारी, जिला मुरादाबाद
  3. राहुल पुत्र विजेंद्र सिंह, निवासीः खाबली अव्वल, तहसील बिलारी, जिला मुरादाबाद
  4. विपिन पुत्र रामवीर, निवासीः खाबली अव्वल, तहसील बिलारी, जिला मुरादाबाद
  5. अनुराग पुत्र तीर्थ, निवासीः खाबली अव्वल, तहसील बिलारी, जिला मुरादाबाद
  6. विक्की पुत्र गुरपाल, निवासीः रायपुर कम्हेड़ा, थानाः सेफनी, जनपद रामपुर
  7. रामचंद्र पुत्र रामसेवक, निवासीः रायपुर कम्हेड़ा, थानाः सेफनी, जनपद रामपुर
  8. हरिश्चंद्र पुत्र मलखान, निवासीः रायपुर कम्हेड़ा, थानाः सेफनी, जनपद रामपुर
  9. सुनील पुत्र मोर मुकुट, निवासीः लोदीपुर, थानाः शाहाबाद, जिला-रामपुर
  10. आदित्य पुत्र सतपाल, निवासीः लोदीपुर, थानाः शाहाबाद, जिला-रामपुर
  11. अरुण कुमार पुत्र राम अवतार, निवासीः लिलोहर बुजुर्ग, थानाः सिरौली, जिलाः बरेली
  12. संजीव पुत्र राम अवतार, निवासीः रेवडी, जनपद रामपुर
  13. डब्लु उर्फ शिवा पुत्र राम अवतार, निवासीः रेवडी, जनपद रामपुर

Jansath Ancident

मौके पर पहुंचे ADG मेरठ और डीआईजी सहारनपुर

सूचना मिलते ही अपर पुलिस महानिदेशक मेरठ जोन मेरठ ध्रुवकांत ठाकुर, पुलिस उपमहानिरीक्षक सहारनपुर परिक्षेत्र सहारनपुर अजय साहनी, जिलाधिकारी मुजफ्फरनगर अरविंद मलप्पा बंगारी और एसएसपी अभिषेक सिंह तत्काल ही मौके पर पहुंचे। अधिकारियों द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण किया गया। एसएसपी ने अपनी निगरानी में रेस्क्यू ऑपरेशन चलवाया और मौके पर डटे रहे। उधर, एसपी सिटी सत्य नारायण प्रजापति ज़िला हॉस्पिटल में मोर्चा संभाले रहे।

क्या बोले अधिकारी

“हादसे में 20-25 लोगों के दबने की सूचना है। सभी लेबर है। अब तक 12 लोगों को निकाला जा चुका है, एक की मौत हो चुकी है। घायलों को अस्पताल में रेफर किया गया है। मैं और कप्तान साहब मौके पर मौजूद है। हमारे पास पर्याप्त एंबुलेंस और अन्य संसाधन मौजूद है। अभी और भी मजदूरों के दबने की आशंका है। बचाव एवं राहत कार्य चल रहा है।” :अरविंद मलप्पा बंगारी, डीएम, मुजफ्फरनगर (रेस्क्यू ऑपरेशन ख़त्म होने से पूर्व देर शाम दिया गया बयान)

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response