उत्तर प्रदेशभारतमुजफ्फरनगर

शिक्षक धर्मेंद्र कुमार का शव, कड़ी सुरक्षा के बीच बनारस भेजा

Dharmendra Kumar
53views

शिक्षक हत्याकांड में पुलिस ने देर रात आरोपित हेड कांस्टेबल पर हत्या और एससीएसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया।रात में डाक्टरों के पैनले से अध्यापक के शव को पोस्टमार्टम कराया था। इसके बाद पुलिस ने कानूनी प्रक्रिया पूरी करने के बाद शव को छोटे भाई के सुपुर्द कर दिया। रात में पुलिस और पुलिस की सुरक्षा में एबुलेंस के माध्यम से शव को बनारस रवाना करा दिया।

बनारस से आए थे शिक्षक धर्मेंद्र कुमार

बता दे कि रविवार रात डेढ़ बजे बनारस से ट्रक से यूपी बोर्ड की उत्तर पुस्तिका लेकर आए अनुसूचित जाति के अध्यापक धर्मेंद्र कुमार की हेड कांस्टेबल चंद्र प्रकाश यादव ने कार्बाइन से गोलियों बरसा कर हत्या कर दी थी। पुलिस ने घटना वाली रात ही आरोपित हेड कांस्टेबल को पकड़ लिया था।

डीएम और एसएसपी ने की बातचीत

सोमवार देर रात बनारस से आए अध्यापक के भाई जितेंद्र से डीएम अरविंद मल्लप्पा बंगारी और एसएसपी अभिषेक सिंह ने सिविल लाइंस थाने में बातचीत की और जितेंद्र को पूरा घटनाक्रम बताया। इसके बाद पुलिस ने जितेंद्र की तहरीर के आधार पर हेड कांस्टेबल चंद्र प्रकाश यादव निवासी जलीलपुर फुसमा थाना दोहरीगढ़ जिला मऊ के खिलाफ हत्या और एससीएसटी एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया। डीएम के निर्देश पर देर रात में ही डाक्टरों के पैनल से अध्यापक के शव का पोस्टमार्टम कराया गया।

पीएम रिपोर्ट के बाद गोली का लगेगा पता

एसपी सिटी सत्यनारायण प्रजापत ने बताया, रात करीब ढाई बजे अध्यापक के शव को पुलिस की सुरक्षा में एंबुलेंस से बनारस भेज दिया गया।एसपी सिटी ने बताया, पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद बताया जाएगा कि अध्यापक के कितनी गोली लगी थी। आरोपित हेड कांस्टेबल को दोपहर के समय कोर्ट में पेश किया जाएगा।

 

 

 

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response