उत्तर प्रदेशभारत

प्रेमिका से मिलने गया था…भाइयों ने पीटा और फिर पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया

Kasganj News
38views

कासगंज में सात दिन पूर्व शहर के किला मोहल्ला इलाके में प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमिका के घर तड़के पहुंचे प्रेमी युवक की न केवल प्रेमिका के भाईयों ने पिटाई की बल्कि पेट्रोल डालकर आग लगा दी। जिससे प्रेमी युवक विशाल गंभीर रूप से जल गया। यह वारदात 8 मार्च को तडक़े हुई। वारदात के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। युवक विशाल का गंभीर हालत में उपचार अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में चल रहा था। जहां बृहस्पतिवार को उपचार के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया। युवक का शव अपराह्न के बाद यहां लाया गया तो परिवार के लोगों, रिश्तेदारों व आस पास के लोगों में आक्रोश फैल गया और फोरलेन मार्ग पर अशोकनगर तिराहे के पास सडक़ पर आकर लोग हंगामा करने लगे। इस दौरान पुलिस से नोंकझोंक भी हुई। एक घंटे तक हंगामे की स्थिति बनी रही। जिससे फोरलेन मार्ग पर यातायात प्रभावित हो गया। सूचना पर कोतवाली पुलिस एवं सीओ मौके पर पहुंचे।

उन्होंने आक्रोश की स्थिति देखते हुए तत्काल पीएसी व अतिरिक्त पुलिसबल मौके पर बुलाया। पुलिस अधिकारियों ने युवक के परिजनों से वार्ता शुरू की, लेकिन इस वार्ता के दौरान कई बार नोंकझोंक की स्थिति बनी और आक्रोशित गाली गलौज करने लगे। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सबसे पहले आक्रोशितों को सडक़ से हटाया और वाहनों का आवागमन शुरू कराया। परिजनों से वार्ता का क्रम चलता रहा। परिजन पुलिस के समक्ष आरेापियों की गिरफ्तारी की मांग एवं एफआईआर में अन्य लोगों के नाम शामिल करने की मांग उठाने लगे। हंगामा बढ़ता देख सीओ अजीत चौहान ने परिजनों को कार्रवाई का भरोसा दिया और तहरीर में नाम बढ़ाने के बिंदु पर जांच कराने की बात कही। इसके बाद मामला शांत हो सका। परिजनों ने प्रेमिका पक्ष की ओर से कराई गई झूठी एफआईआर निरस्त करने की मांग की। युवक के पिता मुकेश का कहना है कि अपना अपराध छिपाने की लिहाज से युवक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई।

पिता ने पहले दो को किया था नामजद, अब तीन और नाम बढ़वाए

युवक विशाल के पिता मुकेश कुमार ने पहले पेट्रोल डालकर विशाल को जलाने के मामले मामले में युवती के भाई नीरज व धीरज के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। इसके अलावा कुछ अज्ञात लोग भी दर्शाए गए, लेकिन अब पिता ने पुलिस से युवती, उसकी मां व एक अन्य भाई सुरेंद्र पर भी वारदात में शामिल रहने का आरोप लगाते हुए हत्या की धाराओं में मामला दर्ज करने की मांंग की है।

पहले युवती के पक्ष से यह कराई गई थी एफआईआर

युवती के पक्ष से पहले विशाल के खिलाफ स्वयं युवती की ओर से एफआईआर दर्ज कराई गई। जिसमें युवती ने कहा कि 8 मार्च की रात्रि करीब ढाई बजे जब वह टॉयलेट करने नाली पर गई थी तब युवक विशाल पहले से मौजूद था और पड़ोस के एक कमरे में खींचकर ले गया। जब युवक का युवती व परिजनों ने विरोध किया तो उसने खुद बाइक से पेट्रोल छिडकऱ कर आग लगा ली। यह मामला पुलिस ने युवक के खिलाफ दर्ज किया था।

सुरक्षा के बीच किया गया अंतिम संस्कार

कासगंज। युवक का अंतिम संस्कार भी कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ। हंगामे की स्थिति को देखते हुए पुलिस और प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद रहा। नगला भूड़ पर शमशान गृह पर युवक का संस्कार किया गया।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response