अपराधउत्तर प्रदेशभारत

बारातियों से भरी बस ने 5 ग्रामीणों को रौंदा, 3 दलितों की मौत

111views

(Bulandshahr News) यूपी के बुलंदशहर Bulandshahr) के छतारी थाना क्षेत्र में बारातियों से भरी तेज रफ्तार बेकाबू बस ने सड़क किनारे खड़े 5 दलितों को रौंद डाला।

हादसे में 3 दलित ग्रामीणों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि, गंभीर रूप से घायल 2 ग्रामीणों को हायर मैडिकल सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया।

पुलिस ने बस को कब्जे में ले चालक को हिरासत में लिया है। शवों को पोस्टमार्टम को भेज दिया गया।

Account in bulandshahr

छतारी में अनियंत्रित बस ने दलितों को कुचला

जनपद के पहासू से बारातियों से भरी एक बस छतारी के कमौना में स्थित फार्म हाउस में जा रही थी। बताया जाता है कि तेज रफ्तार बस ने अनियंत्रित होकर कामौना गांव में सड़क किनारे खड़े 5 ग्रामीणों को रौंद डाला, यही नहीं एक बाइक में भी टक्कर मार दी।

हादसे के बाद गांव में अफरातफरी का माहौल हो गया। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों, बारातियों और पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया। गांव में 3 दलितों को हादसे के बाद मातम पसर गया।

एसपी देहात ने बताया कि हादसे में वहीं सड़क किनारे खड़े ग्रामीण विनोद (38) पुत्र भूदेव सिंह, अशोक (38) पुत्र विजय सिंह, रिंकू (26) पुत्र विजय पाल की मौत हो गई, जब कि अरविंद पुत्र विजय पाल और बादल पुत्र जुगेंद्र सिंह निवासी कमोना घायल हो गए।


मृतकों के सभा का पंचनामा पर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया और घायलों को अलीगढ़ के लिए रेफर किया गया है। हादसे की जानकारी मिलने के बाद एसपी सिटी रोहित मिश्रा को रामकरण सिंह ने घटनास्थल का निरीक्षण किया।

पुलिस ने हादसे के बाद बस को कब्जे में ले लिया है और मामला दर्ज कर अग्रिम विधि कार्रवाई कर रही है।

 

एक साथ जलेंगी 3 चिताएं

गांव में चलेंगे एक साथ तीन चिताएं, मातम पसरा
देर रात हुए हाथ से में तीन लोगों की मौत के बाद गांव में मातम फस रहा है मृतकों के घरों में कोहराम मचा है बताया जाता है कि अशोक पुत्र विजयपाल परिवार में कमाने वाला अकेला था अपने पीछे चार बच्चे छोड़ गया है जबकि हादसे में घायल हुए अरविंद के छोटा भाई रिंकू की भी मौत हो गई है। ग्राम प्रधान प्रदीप कुमार ने बताया कि गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद शवों के पहुंचने पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

Account in bulandshahr

CM से आर्थिक सहायता की मांग

ग्राम प्रधान प्रदीप कुमार ने बताया कि हादसे का शिकार हुए लोग दलित मजदूर परिवार हैं। उन्होंने सीएम सीएम योगी से मृतकों के परिजनों को आर्थिक सहायता मुहैया कराने की मांग की है।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response