उत्तर प्रदेशभारतमुजफ्फरनगर

Muzaffarnagar :खुब्बापुर में बच्चों की कराई गई काउंसिलिंग,बुधवार को यह रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में दाखिल

The_X_India_eng
38views

मुजफ्फरनगर। खुब्बापुर प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर वीडियो में थप्पड़ मारते दिख रहे पांच बच्चों की काउंसिलिंग कराई गई। बुधवार को यह रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की जाएगी। बीएसए शुभम शुक्ला रिपोर्ट लेकर जाएंगे।

शाहपुर ब्लॉक के गांव खुब्बापुर स्थित नेहा पब्लिक स्कूल में कक्षा दो के छात्र को उसके सहपाठियों से थप्पड़ लगवाने के मामले में मंगलवार को बच्चों की काउंसिलिंग कराई गई। स्कूल में पहुंचे खंड शिक्षा अधिकारी शाहपुर संजय भारती, चाइल्ड हेल्प लाइन की समन्वयक प्रभारी काउंसलर कुमारी राखी देवी, प्रोबेशन विभाग से बिलकिश और वन स्टॉप सेंटर से समरीन जैदी की चार सदस्यीय टीम काउंसिलिंग के लिए नेहा पब्लिक स्कूल में पहुंची। उन्होंने वीडियो में थप्पड़ मारते नजर आ रहे पांच बच्चों की काउंसिलिंग की। इन बच्चों से ही स्कूल की अध्यापिका तृप्ता त्यागी ने पीड़ित छात्र को पांच का पहाड़ा नहीं सुनाने पर थप्पड़ लगवाए थे।

यह पूछे गए सवाल

इस दौरान उनसे स्कूल में की जाने वाली गतिविधियों, खेल, शिक्षक-शिक्षिकाओं के रवैये सहित अन्य बातों की जानकारी ली। बच्चों से पूछा गया कि क्या लंच टाइम में उनके स्कूल में खेल की कोई व्यवस्था है। रिपोर्ट बीएसए शुभम शुक्ला बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में दाखिल करेंगे। उन्होंने बताया कि एक मार्च को कोर्ट में मामले की सुनवाई होगी।

यह था पूरा मामला

खुब्बापुर गांव के स्कूल में शिक्षिका तृप्ता त्यागी ने पांच का पहाड़ा नहीं सुनाने पर अल्पसंख्यक समुदाय के छात्र की सहपाठियों से पिटाई करा दी थी। इसी दौरान जातीय टिप्पणी का भी आरोप है। प्रकरण के दौरान पीड़ित छात्र के चचेरे भाई ने वीडियो बना लिया। वीडियो के वायरल होते ही प्रतिक्रियाएं आने लगीं और शिक्षिका की गिरफ्तार करने की मांग उठने लगी। आरोपी शिक्षिका पर एफआईआर दर्ज हो गई थी। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पोते तुषार गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी, जिसकी सुनवाई अब एक मार्च को होगी।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response