उत्तर प्रदेशभारतमुजफ्फरनगर

Muzaffarnagar: पुलिस हिरासत में मारपीट के आरोपी मौत से हड़कंप, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

Police Custody
58views

यूपी के मुज़फ़्फ़रनगर में बुधवार रात पुलिस हिरासत में एक व्यक्ति की मौत से हड़कंप मच गया। मारपीट के मामले की शिकायत पर चरथावल थाना पुलिस ने बलवाखेड़ी गांव निवासी संजय उर्फ छंगा हिरासत में लिया था। पुलिस का दावा है कि बीच रास्ते में उसकी तबीयत खराब हो गई, जिसे तुरंत चरथावल CHC ले जाया गया, जहां से गंभीर अवस्था में उसे ज़िला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। लेकिन हॉस्पिटल पहुंचने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस का मानना है कि हार्ट अटैक की वजह से संजय की तबीयत बिगड़ी और उसकी मौत हुई।

परिवार ने लगाया हत्या का आरोप

हालांकि मृतक संजय उर्फ छंगा के परिजन पुलिस की इस थ्यौरी को झूठा करार दे रहे हैं। परिवार वालों का आरोप है कि संजय की मौत पुलिस की पिटाई से हुई है। परिवार के ही अजय बताते हैं कि मारपीट की मामूली से मामले की शिकायत पर तीसरे पहर करीब 4 बजे पुलिस वाले संजय को लेकर थाने के लिए लेकर निकले थे। पुलिस वालों ने उसे वहां पर भी पीटा और बाद में भी उसकी पिटाई की गई। जिसकी वजह से उसकी जान गई।

Police

नेता से फोन कराकर हत्या कराने का आरोप

परिजनों का ये भी आरोप है कि पुलिस संजय को 4 बजे बिल्कुल ठीक पकड़कर अपने साथ ले गई थी। पुलिस ने करीब ढाई-तीन घन्टे बाद बताया कि चरथावल थाने ले जाते वक्त उसकी मौत हो गई। जबकि गांव बलवाखेड़ी से चरथावल थाने की दूरी महज़ 11 किमी है।

परिवार वालो का ये भी आरोप है कि जिन लोगों के साथ मारपीट हुई थी, उन्होंने पुलिस को पैसे देकर और किसी नेता से फोन कराकर दबाव बनवाया और संजय की पुलिस से हत्या करवाई है।

Police

3 दिन पहले शामली में भी हुई थी कस्टडी में मौत

आपको बता दें कि महज़ 3 दिन पहले ही पड़ोसी शामली ज़िले के झिंझाना थाना इलाके के बिडोली सादात गांव निवासी फुरकान उर्फ भूरा की भी पुलिस कस्टडी में मौत हुई थी। जिसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान साफ साफ दिखाई दे रहे थे। परिजनों ने पुलिस पर हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा काटा था, जबकि पुलिस ने इस मामले में भी ये ही दावा किया था कि   फुरकान की तबीयत खराब होने को वजह से मौत हुई है।

शव का हुआ अंतिम संस्कार

बहरहाल, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है, जिसके बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया है। साथ ही सुरक्षा की दृष्टि से चरथावल थाने पर और गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है।

police costody in diet

क्या कहते हैं अधिकारी?

एसपी सत्यनारायण प्रजापत कहते हैं कि मारपीट के आरोपी को पुलिस पकड़कर थाने ले जा रही थी। बीच रास्ते मे तबीयत खराब हुई थी। हॉस्पिटल में चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।’

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response