वीडियो

संजीव बालियान और संगीत सोम की ‘लड़ाई’ में कूदे सपा सांसद हरेंद्र मलिक

8views

पश्चिम उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के दो दिग्गज्या नेता ठाकुर संगीत सोम और संजीव बालियान के विवाद दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं जो राजनीतिक गलियारों में भी खासा चर्चा का विषय बने हुए हैं । आपको बता दे कि हाल ही में संगीत सोम की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में संजीव बालियान के विरुद्ध बांटे गए पर्चो को लेकर अब मुजफ्फरनगर सांसद हरेंद्र मलिक का भी एक बयान सामने आया है जिसने उन्होंने कहा है कि इस मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए। हरेंद्र मलिक का कहना है कि संजीव बालियान पर गलत आरोप लगाए गए हैं उनके करियर पर कोश्चन मार्ग लग गया है इसलिए संजीव बालियान को इसकी सीबीआई जांच करानी चाहिए जिससे कि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके।

हरेंद्र मलिक की माने तो देखिए ऐसा है आपस में राजनीतिक लोगों को लड़ना नहीं चाहिए व स्थिरता बना कर रखना चाहिए और मैं उनसे अनुरोध करूंगा तो मैं तो यह दोनों से अनुरोध करूंगा यह जानते हुए कि वह बड़े नेता है क्योंकि वह हमारी मांनेगे तो है नहीं लेकिन आपस में प्यार से रहें एवं ना लगे तो अच्छा है और जहां तक पत्र की बात है मुझे उसकी जानकारी नहीं पहले यह बताओ कौन सा पत्र है, आरोप जैसे भी हो पर वह चिट्ठी तो है, देखिए ऐसा ही प्रकरण एक बार मेरे सामने आया था ज़ब मैं इस कमेटी का अध्यक्ष था तो उसमें हम लोगों ने तों यह कहा था कि यद्यपि मान्य सदस्य ने अपने द्वारा पत्र को अपने द्वारा हस्ताक्षर न किया जाना बताया परंतु मामला गंभीर है एवं आरोप गंभीर हैं तो इसकी सीधी सीआईडी जांच कर ली जाए क्योंकि यह केंद्र सरकार का मामला है अगर कोई पत्र ऐसा है और मान लिया संजीव बालियान जी पर झूठे आरोप लगाए हैं तो इस पत्र की सीबीआई जांच करा दो उस दूध का दूध एवं पानी का पानी हो जाएगा और जो पत्र है वह किसका है या किसका नहीं है वह अलग मैटर है पर जो आरोप है उनकी जांच करानी चाहिए और सीबीआई जांच करानी चाहिए और इन्हे ही खुद अपने आप मान्य प्रधानमंत्री जी से यह अनुरोध कर लेना चाहिए कि मेरे विरुद्ध ऐसे-ऐसे गलत आरोप लगाए हैं यार राजनीतिक जीवन एवं सामाजिक जीवन में आदमी रहता है उसे पर फर्जी आरोप लगाए तों अपने आप को जांच के लिए प्रस्तुत कर देना चाहिए, देखो भाई मुझे चुनाव लड़ रहा है अखिलेश यादव ने व कांग्रेस ने और समाजवादी पार्टी के साथियों ने साथ ही जो मेरे पुराने साथी हैं उन्होंने मुझे चुनाव लड़वाया है एवं संगीत सोम अगर मुझे चुनाव लड़वाता एवं हमारी समाजवादी पार्टी 18000 से ज्यादा वोटो से वहां जीती थी और आज हम वहां कुल 47 वोट से जीते हैं और वहां एमएलए हमारे हैं तो अगर संगीत सोम मेरी मदद करता तो निश्चित रूप से हमारी जीत 30000 वोटो से ज्यादा से होती, नहीं हम नहीं मानते की सड़क पर कोई बात नेताओं की होनी चाहिए क्योंकि देखिए नेताओं को और अपराधियों को अलग-अलग व्यवहार करना होगा एवं आप राजनीतिक होंगे तो आपका व्यवहार भी राजनीतिक होना चाहिए तो इनमें से किसी को बड़ा मन दिखाना चाहिए और यह बात सड़क पर नहीं आनी चाहिए और जहां तक पत्र की बात है इसकी सीबीआई जांच कर दें पता चल जाएगा की किसने दस्तख्त कियें यह किसने वह बांटा है और आरोप क्या है भाई सही गलत तो पता लगना चाहिए क्योंकि अगले के कैरियर पर क्वेश्चन मार्क लग गया और हमें तो यह लगता है कि संजीव बालियान जी पर गलत आरोप लगाए गए इसलिए इसकी संजीव बालियान जी को सीबीआई जांच करानी चाहिए ताकि पता चल जाए सही क्या है एवं गलत क्या है।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response