उत्तर प्रदेशभारत

नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती हुए मरीज का शव बेड पर पड़ा मिला

Dead Body
48views

पांच दिन पहले नशा मुक्ति केन्द्र आए युवक का शव कमरे मे मिला। पुलिस कंट्रोल रूम की सूचना पर पहुंची। युवक का शव बेड पर पड़ा मिला। मृतक के बहनोई ने घटना की जांच की मांग की है जबकि केन्द्र के लोग फांसी लगाकर जान देने की बात कह रहे है।

पुलिस के मुताबिक, राजाजीपुरम्, तालकटोरा के रहने वाले सतीश राठौर (32) को इनकी पत्नी ने सात मार्च को मोहनलालगंज के मऊ स्थित शौर्य नशा मुक्ति केन्द्र एवं मानसिक चिकित्सालय में भर्ती कराया था।

मंगलवार की शाम छः बजे पुलिस को कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि केन्द्र में युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। मौके पर पहुंची पुलिस को युवक का शव बेड पर पड़ा मिला। केन्द्र के डॉक्टर विपिन तिवारी के मुताबिक सतीश प्राइवेट रूम मे अकेले रहता था।

मंगलवार की दोपहर दो बजे उसे खाना व दवा खिलाने के बाद बेड पर लिटा दिया गया था। थोड़ी देर बाद फार्मासिस्ट रोहित रूम मे गया तो सतीश का शव तिरंगे झण्डे से खिड़की के सहारे लटक रहा था। शव को उतारकर चेक किया गया तो युवक की मौत हो चुकी थी।

मृतक डिप्रेशन, बीपी और तपेदिक से ग्रस्त था। मृतक के बहनोई हरिशंकर राठौर का आरोप है कि केन्द्र मे कुछ गलत हुआ है। घटना की जांच कर दोषियों के विरूद्व कार्रवाई होनी चाहिए। कस्बा मोहनलालगंज चौकी इंचार्ज बीर बहादुर दुबे के मुताबिक पुलिस को शव बेड पर मिला था। केन्द्र के कर्मचारियों ने फांसी लगाकर जान देने की सूचना पुलिस को दी थी।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response