उत्तर प्रदेशभारत

बाजार में मची अफरा-तफरी, साड़ी शोरूम में लगी भीषण आग, लाखों का माल जला

41views

हाथरस शहर की घनी आबादी वाले पंजाबी बाजार में स्थित एक साड़ी शोरूम में 6 मार्च की देर शाम आग लग गई। इससे बाजार में अफरा-तफरी मच गई। घटना की जानकारी होने पर एसडीएम सदर, सीओ सिटी, कोतवाली सदर पुलिस व अग्निशमन विभाग के अधिकारी दमकलों के साथ मौके पर पहुंच गए। देर रात तक दमकल आग बुझाने में जुटी हुई थी। शार्ट सर्किट को आग लगने की वजह बताया जा रहा है।

शहर के अलीगढ़ रोड बसंत व्यू निवासी पवन बंसल का पंजाबी बाजार में श्रीजी साड़ी एंपोरियम के नाम से शोरूम है। 6 मार्च की शाम को वह शोरूम बंद कर अपने घर गए थे। इसी बीच शोरूम में भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आकर साड़ी, लहंगा, लांचा आदि जलकर राख हो गए। इसकी सूचना पर मौके पर पहुंची दमकलों ने आग पर काबू पाने के प्रयास शुरू कर दिए। एसडीएम सदर लवगीत कौर, सीओ सिटी रामप्रवेश राय भी मौके पर पहुंच गए। श्रीजी साड़ी एंपोरियम में आग लगने की जानकारी जैसे ही अन्य व्यापारियों को जानकारी हुई तो वह तुरंत ही अपने-अपने घरों से मार्केट की ओर दौड़े चले आए। देर रात तक पंजाबी मार्केट में व्यापारियों का जमघट लगा रहा। आग काबू में नहीं आई तो दुकान का शटर तोड़ा गया, इसके बाद आग पर काबू पाया जा सका। शोरूम स्वामी पवन बंसल के मुताबिक इस अग्निकांड में 40 से 50 लख रुपए का नुकसान हुआ है।

fire in showroom

बड़ा अग्निकांड होने से बचा
पंजाबी मार्केट में साड़ी शोरूम में लगी आग की लपटें अन्य दुकान शोरूम तक नहीं पहुंची। अगर ऐसा हो जाता तो अन्य दुकान भी आग की चपेट में आ सकती थी और बड़ा अग्निकांड हो जाता। सीओ सिटी रामप्रवेश राय ने बताया कि शोरूम में आग लगने की सूचना पर प्राप्त हुई थी। प्रथमदृष्टया आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। आग पर काबू के प्रयास जारी है। जल्द ही आग पर काबू पा लिया गया।

कई घंटे तक इलाके की बिजली रही गुल
पंजाबी मार्केट के साड़ी शोरूम में आग लगने की घटना के बाद तुरंत ही विद्युत विभाग को इसकी सूचना दी गई, जिससे की आग और न फैल पाए। विद्युत विभाग के अधिकारियों ने पंजाबी बाजार सहित आस-पास के इलाके की विद्युत आपूर्ति को बंद कर दिया।

शोरूम की स्वामी की बिगड़ी हालत
शोरूम में आग लगने और उसके बाद हुए नुकसान के बाद श्रीजी साड़ी एंपोरियम के स्वामी पंवन बंसल की हालत बिगड़ गई। वह बेहोश हो गए, जैसे-तैसे उन्हें साथी दुकानदारों ने संभाला। तुरंत ही उन्हें इलाज के लिए शहर के निजी अस्पताल ले जाया गया।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response