अपराधउत्तर प्रदेशभारत

UP: मुसीबत में फंसे यूट्यूबर TRT आमिर और दानिश, दोनों के खिलाफ मुकदमा हुआ दर्ज़

683views
  • रिपोर्ट: सुधीर गोयल

मुरादाबाद। थाना सिविल लाइन्स क्षेत्र के रामगंगा विहार स्थित एमआईटी कॉलेज में 14 जनवरी को आयोजित कार्यक्रम में टॉप रियल टीम (TRT) चैनल के संचालक आमिर और दानिश ने सावर्जनिक मंच से महिलाओं को लेकर गलत भाषा का इस्तेमाल किया था।

इतना ही नहीं कार्यक्रम में दर्शक दीर्घा में मौजूद महिलाओं और छात्राओं पर अश्लील फब्तियां भी कसी थी। कार्यक्रम में मौजूद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पदाधिकारी अमन शर्मा और उनके साथियों ने इसका विरोध करते हुए मुरादाबाद के  सीओ सिविल लाइन्स अर्पित कपूर से शिकायत की थी।

सीओ के आदेश पर हुई कार्रवाई
सीओ सिविल लाइन अर्पित कपूर ने एबीवीपी द्वारा सावर्जनिक मंच पर महिलाओं को बेइज्जत करने के मामले की शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए तत्काल थाना अध्यक्ष सिविल लाइन्स राम प्रसाद शर्मा को तहरीर के आधार पर कार्रवाई किए जाने के आदेश जारी किया। साथ ही ABVP के पदाधिकारियों के बयान भी दर्ज करने के आदेश  दिए।

एबीवीपी के कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

पूरे मामले को लेकर गुस्साएं ABVP के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज गेट पर धरना-प्रदर्शन कर विरोध भी जताया था। कार्यकर्ताओं ने कॉलेज में कार्यक्रम आयोजकों एवं टीआरटी की टीम के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी।

बीती रात दर्ज़ हुआ मुकदमा
सीओ के आदेश पर रात दोनों आरोपियों आमिर और दानिश के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 294 और 509 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

चौकी इंचार्ज को जांच
चौकी रामगंगा विहार प्रभारी राजवेंद्र कौर को जांच सौंपते हुए सीओ ने आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई किए जाने के आदेश भी दिए।

TRT की वीडियो में रहती है अश्लीलता!
ज्ञात रहे TRT यूट्यूब चैनल की अधिकांश वीडियो में अमर्यादित टिप्पणियों के साथ-साथ गाली- गलौज ही होती है। इतना ही नहीं पिछले दिनों राजेंद्र त्रिपाठी नामक वीडियो में इन्होंने न्यायपालिका और अधिवक्ताओं के खिलाफ भी अमर्यादित टिप्पणियों के साथ-साथ अधिवक्ताओं और न्यायपालिका की कार्यशैली पर भी गालियां देते हुए प्रश्न चिन्ह लगाए थे।

जबकि पुलिस के बारे में तो तमाम वीडियो में अश्लील कंटेंट देखा जा सकता है। हालांकि शिकायत के बाद भी इनके खिलाफ कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जाती रही है।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response