उत्तर प्रदेशभारत

UP Board Exams: खूब नंबर आएंगे, परीक्षार्थी बोले-आसान था पहला Exam, हिंदी के पेपर से शुरू हुई परीक्षा

45views

यूपी बोर्ड की दसवीं व बारहवीं की परीक्षाएं गुरुवार से शुरू हो गईं। मेरठ जिले में 102 परीक्षा केंद्रों पर यह परीक्षाआयोजित की जा रही है। कई केंद्रों पर परीक्षा देने पहुंचे परीक्षार्थियों का शिक्षकों द्वारा तिलक लगाकर स्वागत किया गया। पहली पाली में दसवीं के छात्रों की हिंदी की परीक्षा रही। परीक्षा के बाद परीक्षार्थी बेहद खुश थे। कहा कि सब कुछ पढ़ा हुआ पूछा गया था। दोहराकर पक्का कर लिया था। बिजनौर में परीक्षा केंद्र से निकली पिंकी, सर्वेश और मनोज का कहना था कि हिंदी में विशेष योग्यता मार्क्स आएंगे। दूसरी पाली में भी बारहवीं में हिंदी की परीक्षा होगी।

परीक्षा में सेंधमारी, किसी भी तरह की गड़बड़ी और अफवाह फैलाने वालों पर एफआईआर दर्ज कराकर उन्हें जेल भेजा जाएगा। बता दें कि इस वर्ष परीक्षाएं मात्र 12 कार्य दिवसों में ही संपन्न होंगी। पहली बार परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों पर तैनात कक्ष निरीक्षकों को कर कोड में क्रमांक युक्त कंप्यूटराइज्ड परिचय पत्र दिए गए हैं।

सीसीटीवी की निगरानी में खोले गए पेपर

मेरठ जिले की बात करें तो दसवीं और बारहवीं में 81,895 परीक्षार्थी शामिल होने थे। नकल पर अंकुश के लिए प्रश्नपत्र सीसीटीवी की निगरानी में खोले गए। इस बार यूपी बोर्ड की परीक्षा में समय के साथ कई बदलाव और भी देखने को मिले। यह पहला मौका था जब वर्ष 2024 की बोर्ड परीक्षा सुबह 8.30 बजे से शुरू हुई। इससे पूर्व यूपी बोर्ड की पहली पाली सुबह साढ़े सात और उसके बाद आठ बजे से शुरू होती थी।

Board Exam

गायब शिक्षकों को वेतन रुकेगा

डीआईओएस राजेश कुमार ने बताया कि बोर्ड परीक्षा की ड्यूटी में लगे कक्ष निरीक्षकों को सुबह परीक्षा केंद्र पर पहुंचना अनिवार्य था। ड्यूटी से गायब रहने वाले प्राथमिक, राजकीय, एडेड और वित्तविहीन स्कूलों के कक्ष निरीक्षकों का वेतन रोका जाएगा।

कड़ी सुरक्षा के बीच हुई प्रथम पाली में हाईस्कूल की परीक्षा 

मुजफ्फरनगर में विभिन्न केंद्रों परे आज से यूपी बोर्ड की परीक्षा का आगाज हो गया। पहले दिन प्रथम पाली में हाईस्कूल के परीक्षार्थियों ने प्रारंभिक हिंदी विषय की परीक्षा दी। सभी केंद्रों पर सुबह से ही भीड़ रही। सघन तलाशी के बाद परीक्षार्थियों को प्रवेश मिला।

जिले में बनाए गए 72 केंद्रों पर गुरुवार को परीक्षा शुरु हुई। सुबह साढ़े आठ बजे से शुरू हुई प्रथम पाली में हाईस्कूल के परीक्षार्थी शामिल हुए। हालांकि प्रथम पाली में इंटरमीडिएट की भी सैन्य विज्ञान विषय की परीक्षा है, लेकिन जिले में इसके इक्का-दुक्का ही परीक्षार्थी हैं।

परीक्षा शुरु होने से करीब एक घंटे पहले यानी साढ़े सात बजे से परीक्षार्थियों को प्रवेश देना शुरु हो गया था। सभी परीक्षार्थियों का प्रवेश पत्र में फोटो से मिलान कर और सघन चेकिंग करने के बाद ही उन्हें परीक्षा कक्ष में भेजा गया। इसके अलावा हर परीक्षा केंद्रों पर पुलिस की तैनाती रहीं। सीसीटीवी कैमरों से भी लगातार निगरानी की जा रही है।

जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. धर्मेंद्र शर्मा ने अपनी सचल टीम के साथ जाकर कई केंद्रों का निरीक्षण किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। हाईस्कूल के करीब 30 हजार से अधिक परीक्षार्थी प्रारंभिक हिंदी की परीक्षा देने के लिए पहुंचे। वहीं जिले में विभिन्न केंद्रों पर 1428 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। दोपहर दो बजे से द्वितीय पाली की परीक्षा शुरु होगी। जिसमें हाईस्कूल की वाणिज्य और इंटरमीडिएट की सामान्य हिंदी विषय की परीक्षा होगी।

U.P Board Exam

परीक्षा देकर निकलते परीक्षार्थी

बिजनौर जनपद में 98 प्रतिशत परीक्षार्थी ने दी प्रथम पाली की परीक्षा

यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा शुरू। पहली पाली में करीब 98 प्रतिशत परीक्षार्थी उपस्थित रहे। डीएम अंकित कुमार अग्रवाल व एसपी नीरज कुमार जादौन ने परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया। हाईस्कूल हिंदी के पेपर में 2382 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षार्थी पेपर देने के बाद खुश थे। बोले खूब नंबर आएंगे। पेपर काफी आसान था।

प्रशासनिक अधिकारी सुबह ही केंद्रों का निरीक्षण करने के लिए निकल पड़े। डीएम अंकित कुमार अग्रवाल व एसपी नीरज कुमार जादौन ने जीजीआईसी व केपीएस परीक्षा केंद्र का निरीक्षण किया। पेयजल, शौचालय, बिजली आदि मूलभूत सुविधाओं को देखा।

परीक्षा में व्याकरण, गद्यांश, पद्यांश के अतिरिक्त निबंध आसान था। पर्यावरण प्रदूषण, त्यौहार आदि पर निबंध ज्यादा परीक्षार्थियों ने लिखा। नई शिक्षा नीति व इंटरनेट पर निबंध बहुत कम परीक्षार्थियों ने लिखा। अति लघु उत्तरीय प्रश्न भी आसान बताए। कुल  मिलाकर हाईस्कूल हिंदी का पेपर बंपर नंबर लाने वाला रहा। इंटर सैन्य विज्ञान का पेपर में कम परीक्षार्थी थे। पेपर ठीक बताया।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response