उत्तर प्रदेशभारत

UP: परिजन बोले- पहले लगाया स्टेटस, फिर आई मौत की खबर, इमरान चीखता रहा…हत्यारे दम निकलने तक पीटते रहे

Kanpur Murder Case
76views

कानपुर में रेलबाजार रामलीला कमेटी के अध्यक्ष इमरान शेख उर्फ नेताजी की हत्या होते वहां रहने वाली एक महिला ने देखी है। रेलबाजार में घटनास्थल के पास रहने वाली महिला ने बताया कि वह तड़के करीब चार बजे छज्जे से झांकी तो चार लोग इमरान को ईंट-पत्थर से मार रहे थे। उन्हें तब तक मारते रहे, जब तक उनका दम नहीं निकल गया। इसके बाद सभी कार से बैठकर फरार हो गए। नीचे आने के बाद उसने पास में रहने वाले इमरान के चाचा को सूचना दी।

तड़के करीब 3:30 से चार बजे के बीच आरोपियों ने इमरान शेख को उनके घर से करीब 300 मीटर पहले उनके चाचा मो. असलम के घर के पास छोड़ा। कार से उतरते ही इमरान का चारों से विवाद होने लगा। चारों ने मिलकर इमरान को पीटना शुरू कर दिया। इसी बीच शोरशराबा सुनकर महिला की आंख खुल गई। महिला ने पुलिस को बताया कि वे इतना घबरा गईं थीं कि उस वक्त उन्हें कुछ समझ नहीं आया कि क्या करें।

जब हत्यारे चले गए, तब उन्होंने ही इमरान के चाचा मो. असलम को वारदात की जानकारी दी। इसके बाद ही पहुंचे परिजन इमरान को उठाकर अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं, पुलिस के हाथ एक फुटेज लगा है, जिसमें सुबह 4:28 बजे लाल रंग की कार घटनास्थल की तरफ से जाती हुई नजर आई। वहीं, इमरान की मौत से पत्नी शबनम व तीन बेटियों आफरीन, मायरा और अकिफा का रो-रोकर बुरा हाल है।

वो एक थप्पड़… जिसने ले ली इमरान की जान

जाजमऊ में बर्थडे पार्टी के दौरान नशेबाजी में हुए विवाद को तो लोगों ने शांत करा दिया था, लेकिन जब इमरान अपने घर के पास पहुंचा तो वह अपने गुस्से पर काबू नहीं कर पाया। कार से उतरने के बाद उसने शोएब को थप्पड़ मार दिया। बस यही वो थप्पड़ था जो इमरान की मौत का कारण बना। इसके बाद आरोपियों ने उसे ईंट-पत्थर से कूंचकर मार डाला।

सिर पर मिले तीन इंच गहने चोट के पांच निशान

सीएचसी कल्याणपुर प्रभारी डॉ. महेंद्र कुमार ने बुधवार को वीडियोग्राफी के साथ इमरान का पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर पर तीन इंच से अधिक गहरे पांच घाव मिले हैं। सूत्रों के अनुसार सिर की छह से अधिक हड्डियां टूटी थीं। अधिक खून बहने से इमरान की मौत हुई है।

 

पहले लगाया स्टेटस फिर आई मौत की खबर

दोस्त की बेटी की बर्थडे पार्टी में गए इमरान ने रात को ही अपने फेसबुक अकाउंट और व्हाट्सएप के स्टेटस पर तस्वीरें अपलोड की थीं। यह देख परिजनों को सबकुछ ठीक ही लगा रहा था। वहीं, कुछ घंटों बाद ही उनकी मौत की खबर से पूरा परिवार सकते में है।

अफ्फान फोन पर खुद को बताता रहा बेकसूर

इमरान की हत्या की खबर सुनकर मौके पर पहुंचे उनके भाई रिजवान, इरफान, सुल्तान व फुरखान मोहल्ले में लोगों से चीख-चीखकर भाई के हत्यारों के बारे में पूछते रहे। इस बीच बड़े भाई इरफान ने अफ्फान के मोबाइल पर कॉल किया तो वह खुद को बेकसूर बताने लगा। कार में मौजूद अन्य साथियों को इमरान की हत्या का आरोपी बताते हुए फोन काट दिया।

आरोपी शोएब उर्फ सिजारो का कबूलनामा

इमरान शेख की हत्या के आरोप में गिरफ्तार खपरामोहाल निवासी शोएब उर्फ सिजारो ने वारदात कबूल की है। उसने पुलिस को बताया कि बर्थडे पार्टी से निकलने के बाद रात में सभी ने शराब पी। इस दौरान इमरान से गालीगलौज हो गई थी। तब उसने गमले से हमले का प्रयास किया था, लेकिन लोगों ने बीचबचाव करा दिया था। इसके बाद चारों लोग कार में ही घूम-घूमकर शराब पीते रहे।

पुलिस तीन अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है

तड़के साढ़े तीन से चार बजे के बीच जब इमरान को घर के पास जब छोड़ा तो उसने थप्पड़ जड़ दिया। इसके बाद बौखलाहट में ईंट से हमला कर दिया। हत्या के बाद जब नशा हल्का हुआ, तो एक मेडिकल स्टोर से नाइट्रावेट (सिर्फ डॉक्टर के पर्चे पर मिलने वाली नींद या दिमाग को शांत करने की दवा) की गोली खरीदी और सभी ने खाई। इसके बाद अफ्फान, अंश और शुभम उसे भी घर के पास छोड़कर चले गए। पुलिस तीन अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है।

ईंट से सिर कूंचकर की गई हत्या

बता दें कि बर्थडे पार्टी में नशेबाजी में हुए विवाद में दोस्तों ने ही रेलबाजार रामलीला कमेटी के अध्यक्ष इमरान शेख (44) उर्फ नेताजी की ईंट से सिर कूचकर हत्या कर दी। बुधवार तड़के खून से लथपथ उनका शव घर के पास पड़ा मिला। हत्या में चार दोस्त शामिल हैं। इनमें एक आरोपी पिंटू सेंगर हत्याकांड के आरोप में जेल में बंद हिस्ट्रीशीटर फैसल का भाई अफ्फान कुरैशी है। पुलिस ने चारों पर हत्या की रिपोर्ट दर्जकर एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

हिंदू-मुस्लिम एकता संगठन में था महामंत्री

रेलबाजार निवासी मो. सुलेमान ट्रक की बॉडी बनाने का काम करते हैं। उनके पांच बेटों में तीसरे नंबर का बेटा इमरान शेख रेलबाजार रामलीला कमेटी का अध्यक्ष होने के साथ ही हिंदू-मुस्लिम एकता संगठन में महामंत्री भी थे। इमरान के बड़े भाई इरफान ने बताया कि मंगलवार देर रात करीब 11 बजे इमरान दोस्त अफ्फान कुरैशी, खपरामोहाल निवासी शोएब उर्फ सिजारो, अंश व शुभम के साथ जाजमऊ में एक दोस्त की बेटी की बर्थ डे पार्टी में गए थे। सभी अफ्फान की लाल रंग की कार से गए थे।

शोएब उर्फ सिजारो को गिरफ्तार किया गया

पुलिस के अनुसार वहीं इमरान का शोएब और उसके साथियों से नशेबाजी के दौरान विवाद हो गया। उस वक्त लोगों ने बीचबचाव कर उन्हें शांत करा दिया। इसके बाद इमरान उन्हीं दोस्तों के साथ घर आया। यहां इमरान की चारों से दोबारा बहस हो गई। तभी चारों ने ईंट से इमरान के सिर पर ताबड़तोड़ हमला कर हत्या कर दी और शव छोड़कर भाग निकले। बुधवार को एक आरोपी शोएब उर्फ सिजारो को गिरफ्तार कर लिया। बाकी तीन आरोपियों और कार की तलाश की जा रही है।

नशेबाजी में हुए विवाद के बाद हत्या की गई है। एक नामजद समेत चार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर अन्य की तलाश में दबिश दी जा रही है।

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response