मुजफ्फरनगर

युवक ने रेप के बाद मासूम का गला दबाकर मार डाला

Smybolic photo
58views

चिनहट इलाके में पांच साल के मासूम बच्चे के साथ पड़ोसी ने कुकर्म किया। विरोध करने पर आरोपी मासूम को बेरहमी से पीटा और गला दबाकर हत्या कर शव को नदी में फेंक दिया। बच्चे के गायब होने के बाद परिजनों ने उसको तलाशना शुरु किया तो पड़ोसी के साथ बच्चे के होने की बात पता चली। इस पर लोगों ने पड़ोसी युवक को पकड़ लिया और धुनाई कर दी। पूछताछ में उसने बच्चे की हत्या कर शव को नदी में फेंकने की बात कबूली। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह आरोपी को भीड़ से बचाया और बच्चे के अर्द्धनग्न शव को नदी से बाहर निकलवाया।

चिनहट के एक गांव में राजमिस्त्री परिवार संग रहते हैं। मंगलवार शाम उनका पांच साल का बेटा घर के बाहर खेल रहा था। इस बीच पड़ोस में रहने वाला मजदूर अमरजीत निषाद बच्चे को बिस्किट दिलाने का लालच देकर अपने साथ ले गया। इसके बाद बच्चा गायब हो गया। देर शाम तक जब बच्चा घर नहीं लौटा तो परिजनों ने उसको तलाशना शुरु किया, पर उसका कोई पता नहीं चल सका। इस बीच कुछ लोगों ने परिजनों को बताया कि उन लोगों ने बच्चे को पड़ोसी अमरजीत निषाद के साथ देखा था। अमरजीत का नाम पता चलने पर परिजन अमरजीत के घर पहुंचे तो वह घर पर नहीं मिला।

इस बीच बच्चे के गायब होने की खबर पूरे गांव में फैल गई। गांव के लोग बच्चे व अमरजीत को तलाशने में जुट गए। कुछ देर के बाद अमरजीत गांव में ही लोगों को मिल गया। लोगों ने उसको पकड़ लिया। पूछताछ की गई तो वो पहले झूठ बोलने लगा। इस पर लोगों का गुस्सा भड़क उठा और लोगों ने उसकी धुनाई कर दी। लोगों का आक्रोश देखते ही आरोपी अमरजीत ने बच्चे की हत्या कर शव को नदी में फेंकने की बात कबूली। ग्रामीणों ने सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी।

मासूम बच्चे की हत्या की सूचना मिलते ही मौके पर एसीपी गोमतीनगर विस्तार सहित चिनहट थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने भीड़ के बीच से आरोपी अमरजीत को बचाया। इसके बाद पुलिस ने उसकी निशानदेही पर मासूम का अर्द्धनग्न शव नदी से बरामद किया। पुलिस ने छानबीन के बाद बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। डीसीपी पूर्वी प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि आरोपी अमरजीत को गिरफ्तार कर लिया गया है।

विरोध करने पर ईंट से सिर व सीने पर किया हमला

डीसीपी पूर्वी ने बताया कि दोपहर तीन बजे आरोपी अमरजीत निषाद घर के बाहर खेल कर मासूम को बहाने से बुलाकर ले गया था। इसके बाद उसने नदी किनारे ले जाकर बच्चे से गलत काम का प्रयास किया तो बच्चे ने विरोध कर लिया। इस पर आरोपी अमरजीत निषाद भड़क उठा और ईंट उठाकर बच्चे के सिर पर सीने पर हमला कर दिया। हमले में बच्चे के सिर पर सीने पर चोट लगी। इसके बाद आरोपी ने उसके साथ गलत काम किया।

पहचान होने की डर से गला दबाकर कर दी हत्या

पूछताछ में पकड़े गए आरोपी अमरजीत निषाद ने बताया कि घटना के बाद बच्चे से गलत काम के बाद उसको पकड़े जाने का डर हुआ। बच्चा उसको अच्छी तरह से पहचानता था। खुद को फंसता देख आरोपी को कुछ समझ मेंं नहीं आया और उसने बच्चे की गला दबाकर हत्या कर शव को नदी में फेंक दिया और चुपचाप वहां से चला आया। ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी अमरजीत नशे का आदी है।

बच्चे का शव देख मचा कोहराम

पांच साल के मासूम बच्चे का शव जब पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर बरामद किया तो परिजन और ग्रामीण मौजूद थे। शव देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया। परिजन मासूम का शव गोद में लेकर चीख-चीख कर रोने लगे। ग्रामीणों की आंख भी मासूम का अर्द्धनग्न शव देख नम हो गई।

 

पोस्ट शेयर करें

Leave a Response